(apply online) CG Godhan Nyay Yojana Registration 2022 Application Form

Godhan Nyay Yojana Registration 2022 : नमस्कार दोस्तों!!! जैसा कि आप सभी जानते हैं कि हम अपनी वेबसाइट के माध्यम से राज्य एवं केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी हम आपसे साझा करते हैं. इसलिए आज हम आपके लिए छत्तीसगढ़ राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी द्वारा राज्य के किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए CG Godhan Nyay Yojana की घोषणा 20 जुलाई 2020 को  कर  दी गई थी.

इस योजना के अंतर्गत है राज्य सरकार राज्य के किसानों तथा पशुपालकों से ₹2 प्रति किलो की दर से गोबर खरीदेगी. जैसा कि आप सभी जानते हैं कि हमारा देश है कृषि प्रधान देश है. देश में अभी भी बहुत से नागरिक पशुपालन तथा कृषि के ऊपर निर्भर करते हैं. छत्तीसगढ़ राज्य में कृषि प्रधान राज्य है. तथा पशुपालन से जुड़ा हुआ है. छत्तीसगढ़ राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी ने सोचा क्यों ना राज्य पशुपालकों को पशुपालन से होने वाले गोबर पर सहायता राशि प्रदान की जाए. इसी एक नई सोच के कारण योजना की शुरुआत हुई. आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से CG Godhan Nyay Yojana के लिए पात्रता, आवश्यक दस्तावेज, ऑनलाइन आवेदन कैसे करें, सभी जानकारियां प्रदान करेंगे अधिक जानकारी के लिए लेख को अंत तक पढ़ लीजिए.

Godhan Nyay Yojana 2022

Godhan Nyay Yojana

जैसा कि हमने आपको बताया कि छत्तीसगढ़ हमारे देश का एक कृषि प्रधान राज्य है. राज्य में अभी भी 50% से अधिक लोग कृषि एवं पशुपालन पर निर्भर करते हैं. के बारे में अधिक जानकारी देते हुए बता दें कि 21 जुलाई 2020 को राज्य सरकार द्वारा पहली बार गोबर खरीदने की शुरुआत की गई है. इस योजना को राज्य योजना का नाम गौतम या योजना सरकार द्वारा 2 चरणों में चलाया जा रहा है पहला चरण के तहत राज्य की 2240 गौशालाओं को जोड़ा गया. दूसरे चरण में राज्य में चल रही 2800 घटना का निर्माण कर दूसरे चरण में गोबर खरीदा गया. राज्य सरकार की इस योजना से राज्य के लोगों को ₹2 प्रति किलो के हिसाब से गोबर खरीदा जा रहा है.

Important Details of Godhan Nyay Yojana

योजना का नामगोधन न्याय योजना
शुरू की गई योजनामुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा
लाभार्थीराज्य के पशुपालन
योजना का क्षेत्रछत्तीसगढ़
उद्देश्यपशुपालन को बढ़ावा देना
आधिकारिक वेबसाइट

Chhattisgarh Godhan Nyay Yojana 2022 Benefits

छत्तीसगढ़ हमारे देश के उन राज्यों में से एक है जहां पर राज्य के अधिकतर लोग कृषि एवं पशुपालन  निर्भर करते है. पशुपालन को अधिक से अधिक बढ़ावा देने के लिए गोधन योजना की शुरुआत की गई है. 10 जुलाई 2021 को छत्तीसगढ़ राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी द्वारा सिंह लाभार्थियों के खाते में यह सहायता राशि ट्रांसफर की गई. यह सहायता राशि महिला स्वयं सहायता समूह, गौठान समितियों एवं विक्रेता पशुपालन को प्रदान की गई. मुख्यमंत्री जी द्वारा 2 करोड़ 45 लाख रुपए की राशि महिला स्वयं सहायता समूह एवं गठान समितियों को प्रदान किए जाएंगे. योजना का सीधा लाभ राज्य के लगभग 62 लाख 18 हजार गोबर विक्रेता पशुपालकों को प्रदान होगा. राज्य के किसानों एवं पशुपालन को आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से इस योजना की शुरुआत की गई है.

आप सभी जानते हैं कि हमारे देश में बहुत से लोग पशुपालन करते हैं छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा पशुपालन से जुड़े लोगों को लाभ पहुंचाने के लिए गोधन न्याय योजना की शुरुआत की गई है. हम आपको बता दें कि मुख्यमंत्री जी द्वारा रायपुर में उन्होंने छत्तीसगढ़ लोक माटी शिल्पकार बहनों से गोबर न्याय योजना से जुड़ी महिलाओं द्वारा निर्मित किए गए दीये, गमले, वर्मी कंपोस्ट खाद निर्माण कर स्वावलंबन से जुड़कर आय अर्जित कर रहीं महिलाओं से मिले और उनसे दीवाली के दीये और पूजन सामग्री खरीदी. मुख्यमंत्री का कहना है कि उनके द्वारा किए गए इस कार्य से राज्य के गरीब परिवार के लोगों को काफी लाभ हुआ है तथा वह गोबर बेचकर राज्य के नागरिक अच्छी आमदनी कम आ रहे हैं.

छत्तीसगढ़ गोधन Nyay योजना संपूर्ण देश आरंभ

योजना के बारे में अधिक जानकारी देते हुए बता दें कि कुछ दिन पहले ही राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी द्वारा एक ट्वीट किया गया था जिसके पैसे मैंने कहा गया था कि केंद्र सरकार का पूरे देश में गोधन  जैसी योजना को शुरू करने जा रही है. योजना की घोषणा घोषणा अभी तक नहीं की गई है लेकिन योजना पर विचार किया जा रहा है. हम आपको बता दें कि 9 मार्च 2021 को लोकसभा की एक रिपोर्ट पेश हुई जिस रिपोर्ट में कृषि संबंधी स्थाई समिति ने केंद्र को छत्तीसगढ़ की गोधन योजना के बारे में सुझाव दिया. समिति द्वारा कहा गया कि पशुपालन तथा डेयरी विभाग के समन्वय से किसानों को गोबर की खरीद के लिए यह आरंभ करनी चाहिए. इस योजना के अंतर्गत किसानों से गोबर की खाद खरीदी जाती है. जिसके उपरांत योग्य उम्मीदवारों को सहायता राशि सरकार द्वारा प्रदान की जाती है.

गोधन न्याय योजना 2022 सालाना इनकम

छत्तीसगढ़ राज्य के किसानों को गाय का गोबर भेजकर सालाना ₹12000 की कमाई कर सकते हैं ऐसा राज्य सरकार की गोधन य योजना के तहत मुमकिन हो पाया है छत्तीसगढ़ राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी ने कहा कि केंद्र सरकार की पीएम किसान योजना के तहत मिलने वाली रकम दोगुनी होगी बगैर जी ने कहा कि गोधन या योजना के अंतर्गत राज्य सरकार गाय के गोबर को पशुपालक में से ₹2 रुपए प्रति किलो के हिसाब से खरीदेगी और इसका इस्तेमाल बर्मी कंपोस्ट या फिर जैविक खाद बनाने में करेगी. राज्य के किसानों की इनकम 12000 कैसे कौन सी है यह बताएं कि यदि किसी के पास तीन या चार पशु है तो वह आसानी से 15 सो रुपए कमा सकता है पीएम किसान योजना के तहत ₹6000 सालाना मिलते हैं तो गोधन  योजना के तहत ₹12000 की कमाई का कर सकते हैं.

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना का इस्तेमाल

CG Nyay yojana के अंतर्गत राज्य सरकार राज्य के किसानों से गोबर दो रुपए प्रति किलो के हिसाब से खरीदेगी. इसके पश्चात इसका उपयोग खाद बनाने में किया जाएगा. जिसके बाद किसान, बागवानी, नागरिया प्रशासन विभाग आदि की फ़र्टिलाइज़र की आवश्यकता को पूरी किया जाएगा. जैसे कि आप सभी जानते हैं कि हमारे देश में खाद कितने इस्तेमाल की जाती है. खाद का इस्तेमाल खेती-बाड़ी में किया जाता है नई फसलों को उगाने में खाद का इस्तेमाल किया जाता है सरकार द्वारा दी जाने वाली इस खाद्य को किसानों को बांटा जाएगा. जिसे कि राज्य में अधिक से अधिक पैदावार हो. अच्छी फसल होने के बाद किसानों को अच्छी राशि मिलेगी. होगा यह की योजना का सीधा लाभ राज्य के किसानों को घूम फिर आकर फिर से मिल जाएगा. सभी किसान आत्मनिर्भर बने बस इसी एक उद्देश्य से  की शुरुआत की गई है.

Cg Nyaya yojana New Updates

छत्तीसगढ़ राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी ने बुधवार को इस योजना के तहत पंचायत लाभार्थियों को उनके को गोबर खरीद की भुगतान राशि योग्य उम्मीदवारों को समर्पित किए. इस योजना के तहत लगभग 65694 पंजीकृत लाभार्थियों में से लगभग 46764 लाभार्थियों से लगभग 82711 क्विंटल को खरीद की जा चुकी है. योजना के तहत अब तक उन नागरिकों को 165,00,000 रुपए प्रदान किए जा चुके हैं. ध्यान दीजिए आपको यह सहायता राशि आपके बैंक अकाउंट में सीधे जमा की जाती है ध्यान रखिए आपका बैंक आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए.

22 जनवरी 2022 को छत्तीसगढ़ राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा गोधन योजना के तहत गोवर विक्रेताओं को राशि जारी कर दी गई है चारे की व्यवस्था के लिए गो थानों में किसानों को दिए गए 7 लाख 32 हजार रुपए. आत्मनिर्भर गोपालक और समृद्ध होते किसानों के लिए गोदन या योजना की शुरुआत राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी द्वारा की गई थी पशुपालकों को योजना के तहत अब तक 4.21 करोड़ रुपए की किस्ते प्रदान की जा चुकी हैं योजना के अंतर्गत गोबर खरीदी में 122 करोड 1700000 रुपए का ऑनलाइन लोगों के बैंक अकाउंट में यह राशि जारी की जा चुकी है देश में गोबर सीधी का एकमात्र योजना छत्तीसगढ़ में चल रही है ऐसा राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी ने कहा

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना का लाभ

  • इस योजना का लाभ केवल छत्तीसगढ़ राज्य के निवासी ही ले सकते हैं.
  • पशुपालन तथा कृषि से जुड़े हुए लोग ही योजना का लाभ ले सकते हैं.
  • सीजी न्याय योजना  राज्य के किसानों की आय में वृद्धि हुई है.
  • योजना से राज्य में पशुपालन करने वालों की आर्थिक स्थिति में सुधार हुआ है.
  • योजना के तहत पशुपालकों से खरीदे जा रहे का गोबर का उपयोग वर्मी कंपोस्ट खाद बनाने में किया जा रहा है.

गोधन योजना छत्तीसगढ़ विशेषताएं

  • CG Godhan Nyay Yojana का सीधा लाभ राज्य के किसानों को मिलेगा.
  • ₹2 प्रति किलो के हिसाब से राज्य सरकार राज्य के पशुपालन से गोबर खरीदेगी.
  • गोबर का इस्तेमाल राज्य सरकार खाद्य बनाने, तथा अन्य कार्य में करेगी.
  • राज्य के किसानों को आय का एक नया साधन मिलेगा.
  • गोबर विक्रेताओं को अब तक 95.94 करो रुपए वितरित किए गए.
  • 1 लाख 68 हजार 531 पशुपालन एवं ग्रामीण हुए लाभान्वित.
  • गौठान समितियों एवं सहायता समूह और गोबर विक्रेताओं को अब तक 3.07 करोड़ रुपए की राशि की गई आवंटित.

CG Godhan Nyay Yojana की शुरुआत राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी द्वारा की गई है राज्य के किसानों को फसल के अलावा अन्य तरह से सहायता राशि प्रदान करने के उद्देश्य से योजना की शुरुआत की गई है राज्य सरकार द्वारा पशुपालन से गाय के गोबर को खरीदेगी तथा राज्य के किसानों को 2 मैं प्रति किलो के हिसाब से गोबर बेचेगी

होगा यह कि इस गोबर का उपयोग राज्य के किसान पैसे कमाने में कर सकते हैं सरकार इस गोबर का उपयोग खाद 9 तथा अन्य तरह के कार्य में करेगी. राज्य में किसानों को आए का एक नया साधन देने के लिए उस योजना की शुरुआत की गई है.

न्याय योजना छत्तीसगढ़ आवश्यक पात्रता

  • छत्तीसगढ़ राज्य का स्थाई निवासी होना चाहिए.
  • पशुपालन को बढ़ावा देने के लिए राज्य के किसान योजना के लिए पात्र होंगे.
  • योजना के अंतर्गत केबल राज्य के गाए पशुपालन को पात्र माना गया  है
  • बड़े जमींदार व्यापारियों को उनकी अधिक आमदनी के आधार पर योजना का लाभ नहीं मिलेगा.

आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • कृषि कार्ड
  • पारिवारिक आय प्रमाण पत्र
  • बैंक अकाउंट
  • पासपोर्ट साइज फोटो

पशुपालकों जैसा कि आप सभी जानते हैं कि छत्तीसगढ़ राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी द्वारा राज्य के पशुपालकों को उनका गोबर खरीदने पर आर्थिक सहायता प्रदान की जा रही है. ऐसे में छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा के उचित दाम पर गोबर की खरीद करने के मामले में झारखंड सरकार द्वारा गोधन न्याय योजना की शुरुआत की गई है गोबर का इस्तेमाल करके राज्य के किसानों को सहायता राशि आवंटित की जा रही है जो भी नागरिक योजना का लाभ लेना चाहता है ऑनलाइन आवेदन कर सकता है

छत्तीसगढ़ गोधन न्याय योजना ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

Read More:

मोर जमीन मोर मकान योजना

Tuhar Sarkar Tuhar Dwar Yojana

दोस्तों यदि आप इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं तो नीचे दिए हुए तरीकों को फॉलो करें: –

  • CG Godhan Nyay Yojana का लाभ लेने के लिए आपको सर्वप्रथम आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा.
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपको गोधन न्याय योजना का लिंक मिलेगा.
  • यहां पर आपको अपनी सभी तरह की जानकारियां देनी होंगी.
  • सभी जानकारियां देने के बाद आपको योजना का लाभ मिल जाएगा.

अंत में दोस्तों आज हमने आपको छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा चलाई जा रही को गोधन न्याय योजना की जानकारी दी. हमारे द्वारा दी हुई जानकारी आपको कैसी लगी आर्टिकल से जुड़े कोई भी प्रश्न आप नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं हम आपके प्रश्नों का अवश्य उत्तर देंगे धन्यवाद पोस्ट को शेयर करना ना भूलें.

Leave a Comment

Your email address will not be published.

x